July 15, 2024
AP Singh

भोले बाबा के वकील एपी सिंह

Share this news :

AP Singh on Hathras Stampede: उत्तर प्रदेश के हाथरस में सत्संग में हुए हादसे को लेकर भोले बाबा उर्फ नारायण साकार हरि के वकील एपी सिंह ने बड़ा दावा किया है. एपी सिंह ने कहा कि हादसे के वक्त कुछ लोगों के पास जहरीले स्प्रे थे, जिस कारण लोगों को सांस लेने में तकलीफ हुई. एपी सिंह का कहना है कि इसी वजह से वहां भगदड़ मची और इतने लोगों की जान गई. उन्होंने दावा किया है कि भोले बाब को बदनाम करने की साजिश रची जा रही है.

बाबा के वकील ने किया बड़ा दावा

भोले बाबा के वकील एपी सिंह ने आरोप लगाया है कि भोले बाब की बढ़ती लोकप्रियता को देखकर उनके खिलाफ साजिश के तहत इस घटना को अंजाम दिया गया. एपी सिंह ने दावा किया सत्संग के दौरान 10-12 लोगों ने भीड़ में जहरीले पदार्थ वाली कैन खोल दी और वहां से भाग निकले. यह एक पूर्व नियोजित साजिश थी. एपी सिंह ने कहा कि मैं एसआईटी से आग्रह करता हूं कि इस बात की जांच करे कि इस घटना के पीछे कौन लोग हैं. साथ ही उन्होंने घटना के पहले और बाद की सीसीटीवी भी सीज करने की बात कही है. एपी सिंह ने कहा कि यह दुर्घटना नहीं बल्कि हत्या का मामला है.

हिरासत में मुख्य सेवादार

इधर भोला बाबा का मुख्य सेवादार और हाथरस सत्संग का मुख्य आयोजक देव प्रकाश मधुकर 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है. मधुकर हाथरस हादसे का मुख्य आरोपी है. वह 2 जुलाई से ही फरार था. शुक्रवार (5 जुलाई) को उसे पुलिस ने गिरफ्तार किया था.

बता दें कि में सत्संग में भगदड़ (Hathras Stampede) की यह भयावह घटना मंगलवार (2 जुलाई) की है, जिसमें 121 लोगों की मौत हो गई. इस सत्संग का आयोजन भोले बाबा उर्फ नारायण साकार हरि ने किया था. बाबा का सत्संग सुनने करीब 2.5 लाख से ज्यादा लोग पहुंचे थे, जबकि 80 हजार की ही अनुमति मिली थी. सत्संग खत्म होने के बाद जल्दी बाहर निकलने की होड़ में भगदड़ मच गई, जिसकी वजह से इतना हादसा हो गया.


Also Read-

राहुल गांधी के आधे भाषण को फैलाया गया, सजा मिलनी चाहिए, ‘हिंदू’ वाले बयान पर बोले शंकराचार्य स्वामी अविमुक्तेश्वरानंद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *