June 26, 2024
Akhilesh Yadav

Akhilesh Yadav

Share this news :

Akhilesh Yadav on Temple Controversy: समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने बीजेपी कार्यकर्ताओं के मंदिर धुलने वाली घटना पर प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने कहा कि बीजेपी भारत में ‘छूआ-छूत’ जैसी हजारों साल पुरानी परंपराओं को वापस लाना चाहती है, जिसमें अगर कोई आपको छू लेता है तो नहाते हैं, अगर कोई मंदिर चला गया तो उसे धुल देते हैं. बता दें कि सोमवार, 6 मई को अखिलेश यादव के गौरीशंकर मंदिर में दर्शन करके लौटने के बाद बीजेपी कार्यकर्ताओं ने मंदिर को गंगाजल से धुला था.

क्या बोले अखिलेश यादव?

सपा प्रमुख अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav on Temple Controversy) ने कहा कि बीजेपी और बीजेपी की मानसिकता वाले लोग भारत की संस्कृति के खिलाफ हैं. वो भारत में हजारों साल पुरानी परंपराएं समाज में वापस लाना चाहते हैं. अगर आपको कोई छू लेगा तो नहाइए, अगर आप मंदिर चले गए तो उसके धुलेंगे. इसके साथ ही एक पुरानी घटना का जिक्र करते हुए अखिलेश ने कहा कि ये आचरण बीजेपी ने पहली बार नहीं किया है. मुझे याद है जब बीजेपी के मुख्यमंत्री पहली बार सीएम आवास गए तो उसे गंगाजल से धुलवाया था.

वीडियो हुई थी वायरल

बीजेपी कार्यकर्ताओं के मंदिर धुलने वाली वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुई थी. इसे लेकर सपा नेताओं ने बीजेपी पर जातिवाद करने का आरोप लगाया था. वहीं बीजेपी ने सफाई देते हुए कहा था कि अखिलेश यादव के साथ कुछ मुस्लिम और बाकी कार्यकर्ता जूते पहनकर मंदिर परिसर में घुसे थे, इसलिए वहां मंदिर की सफाई की गई.


Also Read-

‘15 घंटे लीजिए, हम यहीं बैठे हैं’, नवनीत राणा के विवादित बयान पर असदुद्दीन ओवैसी का पलटवार

‘अडानी का टैम्पो’, विपक्षी दलों ने शेयर की ये तस्वीर, PM मोदी से पूछे सवाल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *