July 15, 2024
Aligarh Mob Lynching

Aligarh Mob Lynching: भीड़ ने पीट-पीटकर औरंगजेब को मार डाला

Share this news :

Aligarh Mob Lynching: उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में मॉब लिंचिंग का मामला सामने आया है. बताया जा रहा है कि चोरी के शक में भीड़ ने मोहम्मद फरीद उर्फ औरंगजेब की सड़क पर पीट–पीटकर हत्या कर दी. पुलिस ने मामले में 6 आरोपियों को गिरफ्तार किया है. जिसके बाद मामला और बिगड़ गया. आरोपियों की गिरफ्तारी के खिलाफ BJP विधायक और तमाम हिंदूवादी संगठन विरोध प्रदर्शन करने लगे.

परिजनों ने शव के साथ की नारेबाजी

पूरा मामला (Aligarh Mob Lynching) अलीगढ़ के गांधीपार्क क्षेत्र के मोहल्ला रंगरेजान मामू भांजा का है, जहां मंगलवार देर रात कथित तौर पर चोरी के शक में मोहम्मद फरीद उर्फ औरंगजेब की कुछ लोगों ने पीट-पीटकर हत्या कर दी. हत्या के बाद औरंगजेब के परिजनों ने शव को अस्पताल के बाहर रखकर हंगामा किया. इस दौरान सपा और बसपा के नेता भी औरंगजेब के परिजनों के समर्थन में आ गए और प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की.

पोस्टमार्टम में सामने आयी यह बात

मॉब लिंचिंग के शिकार औरंगजेब की पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक, उसके शरीर पर कुल 19 चोटें मिली हैं और उसकी 3 पसलियां भी टूटी हैं. इसके अलावा उसके सिर पर भी चोट थी और लीवर फट गया था. औरंगजेब की पिटाई का वीडियो भी सामने आया है, जिसमें कई लोग उसे बेरहमी से पीटते हुए देखे जा सकते हैं.

गिरफ्तारी के खिलाफ हुआ प्रदर्शन

पुलिस ने पिटाई के वीडियो को आधार पर बीजेपी नेता के भाई अंकित वार्ष्णेय, राहुल मित्तल, डिंपी अग्रवाल, कमल बंसल, चिराग वार्ष्णेय और जय गोपाल को गिरफ्तार किया है.

आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद भाजपा विधायक और तमाम हिंदूवादी संगठन बुधवार सुबह प्रोटेस्ट करने लगे. प्रोटेस्ट करने वाले लोग आरोपियों की गिरफ्तारी को गलत बता रहे थे. इलाके में हिंदू और मुस्लिम दोनों समुदाय आमने-सामने आ गए थे. फिलहाल इलाके में शांति है, लेकिन तनाव अभी भी बना हुआ है. इलाके में एक कंपनी RAF, 3 कंपनी PAC के साथ पुलिस फोर्स तैनात है, जो ड्रोन कैमरे के जरिए पूरे इलाके की निगरानी कर रही है.


Also Read-

चाइल्ड पॉवर्टी के मामले में भारत की पाकिस्तान से भी बुरी स्थिति, 40% बच्चों को नहीं मिल पा रहा पोषक आहार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *