June 19, 2024
mukhtar Ansari

mukhtar Ansari

Share this news :

यूपी के बांदा जेल में बंद माफिया मुख्तार अंसारी (Mukhtar Ansari) की तबीयत अचानक बिगड़ गई. जिसके बाद उन्हें आनन फानन में बांदा मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती कराया गया. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, मुख्तार अंसारी 3 दिन से यूरिनल इंफेक्शन से परेशान था. ऐसे में उसकी तबियत सोमवार रात ज्यादा बिगड़ गई. जिसके बाद रात 1 बजे मुख्तार अंसारी को बांदा मेडिकल कॉलेज में शिफ्ट किया गया.

वेंटिलेटर पर मुख्तार अंसारी

फिलहाल मुख्तार अंसारी का इलाज आईसीयू में वेंटिलेटर पर चल रहा है. हालांकि, इस मामले में जिला प्रशासन, पुलिस और जेल प्रशासन की ओर से अब तक कोई बयान सामने नहीं आया है. गौरतलब है कि दो दिन पहले मुख्तार अंसारी की सुरक्षा में लापरवाही को लेकर एक जेलर और दो डिप्टी जेलर सस्पेंड किया जा चुके हैं.

निगरानी में मुख्तार अंसारी

सूत्रों के मुताबिक मुख्तार अंसारी की हालत खतरे से बाहर है. डॉक्टरों की टीम मुख्तार अंसारी के स्वास्थ्य की निगरानी कर रही है. अगर हालात ज्यादा बिगड़ती है तो मेडिकल कॉलेज से रेफर भी किया जा सकता है. मालूम हो कि जेल में बंद मुख्तार पर चल रहे केसों की सुनवाई को तेज किया गया है. पिछले दिनों उसके खिलाफ सातवें केस में सजा का ऐलान किया गया है.

मुख्तार के बेटे उमर अंसारी ने लिखा कि मेरे अब्बा जनाब मुख़्तार अंसारी साहब को बाँदा मेडिकल कॉलेज के I.C.U में अभी 1 घंटा पहले भर्ती कराया गया है. उनकी हालत बहुत गम्भीर है. आप सब उनके लिये दुआ और प्रार्थना करे.

खाने में धीमा ज़हर दिए जाने का आरोप

उधर मुख्तार के परिवार का आरोप है कि खाने में धीमा ज़हर दिया गया है. परिवार का कहना है कि उसरीचट्टी मामले में गवाही से रोकने के लिए ये सब किया गया है. उसरीचट्टी साल 2001 का बड़ा कांड है जिसमें मुख़्तार और ब्रजेश के बीच जमकर गोलीबारी हुई थी. इसमें मुख़्तार को गोली लगी थी. इस मामले में मुख़्तार की गवाही होनी है. इससे पहले खुद मुख्तार ने अभी अपने जान को खतरा बताते हुए दावा किया था कि उसे खाने में धीमा जहर दिया जा रहा है.

Also Read: Loksabha Election: मोदी-शाह के गढ़ में बीजेपी को बड़ा झटका, दो प्रत्याशियों ने किया चुनाव लड़ने से इनकार

Also Read: PM पद के लिए जनता की पहली पसंद राहुल गांधी, लड़ाई में आस पास भी नहीं हैं नरेंद्र मोदी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *