June 24, 2024
Priyanka Gandhi

"परीक्षा माफियाओं को बचाने के लिए BJP युवाओं की बुनियाद खोखली कर रही", Paper Leak पर बोलीं प्रियंका गांधी

Share this news :

Paper Leak: यूपी में पेपर लीक का सिलसिला खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है. एक बार फिर से यूपी बोर्ड के 12वीं का पेपर लीक हो गया. बता दें कि गुरुवार (29 फरवरी) को दोपहर दो बजे से दूसरी पाली में 12वीं की गणित और जीव विज्ञान की परीक्षा चल रही थी. परीक्षा शुरु होने के 1 घंटे बाद ही यूपी के आगरा में व्हाट्सएप पर 12वीं गणित और जीव विज्ञान का पेपर वायरल होने लगा.

यूपी माध्यमिक शिक्षा परिषद ने बाद में नोटिफिकेशन जारी कर बताया कि 29 फरवरी को सेकंड शिफ्ट में परीक्षा के दौरान दोपहर 3 बजकर 10 मिनट पर आगरा के परीक्षा पर्यवेक्षक मुकेश अग्रवाल ने जानकारी दी की कि ऑल प्रिंसीपल्स आगरा नाम के एक व्हाट्सएप ग्रुप पर 12वीं के जीव विज्ञान और गणित का पेपर डाला गया.

पहले भी हुआ पेपर लीक

वहीं इसके पहले RO/ARO का भी पेपर लीक हो गया था. इसके विरोध में अभ्यर्थियों ने कई दिनों तक प्रदर्शन किया. कांग्रेस पार्टी ने तब युवाओं के लिए आवाज उठाई थी और बीजेपी सरकार को घुटने टेकने के लिए मजबूर किया. जिसके बाद यूपी सरकार ने युवाओं की मांग सुनी और परीक्षा रद्द की.

प्रियंका गांधी ने उठाया सवाल

इस बार भी कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने 12वीं की परीक्षा के पेपर लीक होने के मुद्दे पर बीजेपी सरकार को घेरा है. सोशल मीडिया पर पोस्ट कर प्रियंका गांधी ने कहा, “भाजपा राज में नौकरी की परीक्षाओं से लेकर बोर्ड परीक्षा तक- लगभग हर पेपर लीक हो रहा है. बोर्ड परीक्षाएं बच्चों की पहली ऐसी चुनौती हैं जिनका सामना करते हुए वे भविष्य बनाना सीखते हैं. अगर यहीं पर उनके साथ इतना बड़ा धोखा हो जाएगा तो वे आगे क्या करेंगे?”

प्रियंका गांधी ने आगे कहा कि परीक्षा माफिया और सरकार में बैठे भ्रष्टाचारियों को बचाने के लिए भाजपा करोड़ों बच्चों, युवाओं की बुनियाद भी खोखली कर रही है. बीजेपी सरकार पर सवाल उठाते हुए उन्होंने कहा कि क्या भाजपा नहीं चाहती कि प्रदेश के बच्चे अच्छे से पढ़-लिखकर अपना भविष्य संवारें?

Also Read-

मोदी सरकार ने फिर बढ़ाए LPG सिलेंडर के दाम, एक महीने में हुआ 40 रूपए महंगा

‘कहीं पेड़ से लटके नाबालिग बहनों के शव, तो कहीं इंटों से कुचल कर हत्या…’,यूपी के जंगलराज पर बोले राहुल गांधी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *