June 19, 2024
UP में क्यों प्रदर्शन कर रहे बेरोजगार युवा, कहां हुई है धांधली, जानें सारी सच्चाई

UP में क्यों प्रदर्शन कर रहे बेरोजगार युवा, कहां हुई है धांधली, जानें सारी सच्चाई

Share this news :

उत्तर प्रदेश (UP)की राजधानी लखनऊ में पुलिस भर्ती परीक्षा और शिक्षक भर्ती परीक्षा के अभ्यर्थी लगातार प्रदर्शन कर रहे हैं. पुलिस भर्ती को लेकर करीब 12 हजार अभ्यर्थी लखनऊ के ईको गार्डन में इकट्ठे हुए हैं और नारेबाजी कर रहे हैं. उन्हें राकने के लिए योगी सरकार ने वहां PAC तैनात करवा दिया है.

वहीं आज दोपहर में 69000 शिक्षक भर्ती परीक्षा के अभ्यर्थी बीजेपी मुख्यालय के गेट पर प्रदर्शन करने पहुंच गए. अभ्यर्थियों ने मुख्यालय के गेट के बाहर जोरदार प्रदर्शन किया और नारेबाजी की. जिसके बाद पुलिस ने उन्हें वहां से जबरदस्ती हटाने की कोशिश की. इस दौरान अभ्यर्थियों की पुलिस से धक्का-मुक्की हो गई. आखिर में पुलिस ने प्रदर्शन कर रहे अभ्यर्थियों को गाड़ियों में भरकर ईको गार्डन भेज दिया.

क्या है अभ्यर्थियों की शिकायत

पुलिस भर्ती परीक्षा के अभ्यर्थियों का कहना है कि उनकी परीक्षा दोबारा करवाई जाए, क्योंकि इस बार परीक्षा से पहले ही पेपर लीक हो गए. ऐसे में मार्किंग ठीक से नहीं हो पाएगी और जो लोग काबिल नहीं हैं, वो भी सिलेक्ट हो जाएंगे.

बता दें कि पुलिस भर्ती परीक्षा यूपी के 75 जिले में 17 और 18 फरवरी को हुई थी. इस परीक्षा के बाद 60244 पदों पर सीधी भर्ती होने वाली थी. इसके लिए करीब 48 लाख छात्रों ने रजिस्ट्रेशन कराया था. परीक्षा के दिन ही पेपर लीक हो गए. इसके अलावा इस दौरान 244 सॉल्वर भी पकड़े गए थे.

दूसरी तरफ शिक्षक भर्ती परीक्षा के अभ्यर्थियों का कहना है कि भर्ती में ओबीसी वर्ग को 27 प्रतिशत के बजाय महज 3.86 प्रतिशत आरक्षण मिला है. नियुक्त हुए 31 हजार लोगों में से करीब 29 हजार लोग जनरल कोटे से सीट पाने के हकदार थे. उनका कहना है कि भर्ती में 19 हजार सीटों का हेरफेर हुआ है.

Also Read-

प्रधानमंत्री मोदी ‘चंदे का धंधा’ कर रहे हैं, राहुल गांधी ने खोली पोल

भारत सरकार के आदेशों पर अकाउंट किए जा रहे बंद, एक्स ने खुद किया खुलासा, कहा- सरकार गलत कर रही

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *