June 24, 2024
Ladakh: लद्दाख में चीनी सैनिकों और भारतीय चरवाहों के बीच भिड़ंत

Ladakh: लद्दाख में चीनी सैनिकों और भारतीय चरवाहों के बीच भिड़ंत

Share this news :

चीन लगातार भारत के हिस्सों पर अपना कब्जा करने की कोशिश में लगा है. लेह-लद्दाख के रुदूर पर्वतीय इलाके में चीनी सैनिकों की ऐसी ही एक और हरकत सामने आई है. दरअसल, लद्दाख (Ladakh) में चीनी सैनिकों ने भारतीय चरवाहों को रोकने की कोशिश की. हालांकि, निहत्थे भारतीय चरवाहों ने भी साहस दिखाते हुए हथियारों से लैस चीनी सैनिकों का सामना किया. चीन की पीपुल्स लिब्रेशन आर्मी(PLA) के जवानों और भारतीय चरवाहों के बीच कुछ देर तक झड़प हुई. इस दौरान चरवाहों ने चीनी सेना की बख्तरबंद गाड़ियों पर पत्थरबाजी भी की.

झड़प का वीडियो वायरल

चीनी सैनिकों और भारतीय चरवाहों के बीच हुई इस झड़प का वीडियो सामने आया है, जो अब सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है. जानकारी के मुताबिक, पूर्वी लद्दाख (Ladakh) में एलएसी पर चीनी सैनिकों ने भारतीय चरवाहों को अपने जानवर ले जाने से रोक दिया, जिसके बाद सैनिकों और चरवाहों के बीच कहासूनी होने लगी. इसके बाद चरवाहों ने चीनी सैनिकों का डटकर सामना किया और वहां से जाने से इंकार कर दिया. यह वीडियो 2 जनवरी का बताया जा रहा है.

कांग्रेस ने केंद्र से मांगा जवाब

वहीं, इस घटना पर केंद्र सरकार ने चुप्पी साधी हुई है. केंद्र की तरफ से इसे लेकर न कोई सख्त कदम उठाया गया है और न ही कोई बयान जारी किया गया है. इसे लेकर कांग्रेस ने मोदी सरकार को घेरा है. कांग्रेस की प्रवक्ता सुप्रिया श्रेनेत ने केंद्र पर निशाना साधते हुए सवाल उठाया है कि चीन की नापाक हरकतों का जवाब भारत सरकार क्यों नहीं दे रही है. उन्होंने सोशल मीडिया पर पोस्ट कर सवाल किया कि-

-चीन के राजनयिक RSS के मुख्यालय में मीटिंग क्यों कर रहे हैं?
-हम चीनी टेक्निशियन के लिये वीज़ा क्यों आसान कर रहे हैं?
-चीन से लगातार आयात क्यों बढ़ा रहे हैं?
-लद्दाख में मेजर शैतान सिंह के युद्ध स्मारक को बफर जोन में क्यों डाल रहे हैं?

‘झूठ बोल रही मोदी सरकार’

इसके साथ ही सुप्रिया श्रेनेत ने कहा कि पूर्वी लद्दाख में 65 में से कम से कम 26 पेट्रोलिंग पॉइंट ऐसे हैं जहां अप्रैल-मई 2020 से भारतीय सैनिकों द्वारा गश्त नहीं की जा रही है. इनमें से कई क्षेत्रों में जहां पहले गश्त की जा रही थी, उन्हें ‘बफर ज़ोन’ में बदल दिया गया है. आगे उन्होंने सवाल करते हुए कहा कि भारत सरकार में सुई टपक सन्नाटा क्यों है? लाल आंखें कब तक मूंदे रहेंगे? यह देश और हमारी पराक्रमी सेना ‘कोई घुसा हुआ नहीं है’ के झूठ की कितनी और कब तक कीमत चुकाएगी?

पीएम मोदी ने किए दावे

बता दें कि पीएम मोदी पिछले कई सालों से लगातार दावे करते रहे हैं कि लद्दाख (Ladakh) में कोई घुसपैठ नहीं हुई है, अगर इस तरह का प्रयास हुआ तो चीन को करारा जवाब दिया जाएगा. इसके साथ ही उन्होंने कहा है कि भारत आंख में आंख डालकर चुनौती देना जानता है. पीएम मोदी के इन्ही दावों पर कांग्रेस पार्टी ने अब सवाल खड़ा किया है.

Also Read:

Hemant Soren: बीजेपी ने जारी किया हेमंत सोरेन की ‘गुमशुदगी’ का पोस्टर, जानें किस बात पर मचा है बवाल

Sakshee Malikkh: साक्षी मलिक ने फिर खोली बृजभूषण के करीबी की पोल, कहा- फ़र्जी खिलाड़ियों को बांट रहे सर्टिफ़िकेट, जानें पूरा मामला

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *