July 15, 2024
Champions Trophy 2025

टीम इंडिया पाकिस्तान में नहीं खेलेंगी चैंपियंस ट्रॉफी का मुकाबला!

Share this news :

Champions Trophy 2025: चैंपियंस ट्रॉफी 2025 का आयोजन पाकिस्तान में होना हैं. लेकिन इससे पहले पूरे टूर्नामेंट पर खतरे के बादल मंडरा रहे हैं. दरअसल, सुरक्षा के कारणों की वजह से टीम इंडिया पाकिस्तान नहीं जाना चाहती है. जिसको लेकर भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने आईसीसी से गुहार लगाई है. बीसीसीआई ने आईसीसी से कहा है कि टीम इंडिया के मैच पाकिस्तान के बजाय श्रीलंका या दुबई में आयोजित कराए जाए.

न्यूज एजेंसी एएनआई के बीसीसीआई के सूत्रों के हवाले से जानकारी दी है कि भारतीय क्रिकेट टीम के 2025 आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी के लिए पाकिस्तान जाने की संभावना नहीं है. बीसीसीआई आईसीसी से दुबई या श्रीलंका में मैच आयोजित करने के लिए कहेगा. हालांकि अंतिम निर्णय आईसीसी को ही लेना होगा. गौरतलब है कि टीम इंडिया ने आखिरी बार पाकिस्तान का दौरा साल 2008 में किया था. इसके बाद टीम वहां जाने से हर बार मना करती आई है.

हाइब्रिड मॉडल के तहत कराया जा सकता है टूर्नामेंट

चैंपियंस ट्रॉफी 2025 का आयोजन हाइब्रिड मॉडल के तहत हो सकता है. पिछले साल हुए एशिया कप को भी इसी मॉडल के तहत कराया गया था. हाईब्रिड मॉडल के अंतर्गत जिस देश को समस्या होती है, उसके मैच न्यूट्रल वेन्यू पर कराए जाते हैं. बता दें कि एशिया कप में 4 मैच पाकिस्तान और 9 मैच श्रीलंका में हुए थे.

पीसीबी द्वारा आईसीसी को भेजे गए ड्राफ्ट शेड्यूल के अनुसार, चैंपियंस ट्रॉफी 19 फरवरी से शुरू होगी और 9 मार्च तक चलेगी. पीसीबी ने भारत और पाकिस्तान के बीच मैच की तारीख भी 1 मार्च तय की है, जो लाहौर में होना है. लेकिन टीम इंडिया के पाकिस्तान न जाने से पीसीबी के प्लान पर पानी फिर सकता है.

गौरतलब है कि टीम इंडिया ने आखिरी बार पाकिस्तान का दौरा साल 2008 में किया था. इसके बाद टीम वहां जाने से हर बार मना करती आई है. वहीं अब देखना होगा कि चैंपियंस ट्रॉफी 2025 को लेकर आखिरी निर्णय क्या आता है? बता दें कि साल 2023 में हुए एशिया कप भी हाइब्रिड तरीके से आयोजित किया गया था. जिसमें टीम इंडिया ने अपने सभी मैच श्रीलंका में खेले थे, जबकि अन्य देशों की टीम पाकिस्तान में मुकाबले खेलने गई थी. 


Also Read-

आर्थिक असमानता की बढ़ती खाई को लेकर कांग्रेस चिंतित, लेकिन मोदी सरकार को नहीं पड़ता कोई फर्क, देखें रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *