July 15, 2024
Paper Leak News

भाजपा के सहयोगी पार्टी के विधायकों पर जारी हुआ गैर जमानती वारंट

Share this news :

Paper Leak News: पेपर लीक और भर्ती घोटाले के मामले में भारतीय जनता पार्टी के सहयोगी दलों के 2 विधायकों के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी  हुआ है. ये वारंट लखनऊ के स्पेशल गैंगस्टर कोर्ट ने दिया हैं. कोर्ट ने सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (सुभासपा) के विधायक बेदी राम और निषाद पार्टी के विधायक विपुल दुबे के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया है. बता दें यह मामला फरवरी 2006 के रेलवे की ग्रुप डी परीक्षा के पेपर लीक से जुड़ा हुआ है.

बेदी राम गाजीपुर की जखनिया सीट और विपुल दुबे भदोही की ज्ञानपुर सीट से विधायक हैं. दोनों विधायकों समेत एक दर्जन से ज्यादा आरोपियों को कोर्ट ने हाजिर होने का आदेश दिया था. लेकिन जब आरोपी हाजिर नहीं हुए तो विशेष जज पुष्कर उपाध्याय ने गैर जमानती वारंट जारी किया. साथ ही कोर्ट ने कृष्णा नगर इंस्पेक्टर को 26 जुलाई तक गिरफ्तारी वारंट तामील कराने का निर्देश दिए है.

गैंगस्टर एक्ट भी लगा था

बता दें कि एसटीएफ ने फरवरी 2006 में बेदी राम और विपुल दुबे समेत 16 लोगों को पेपर लीक मामले में अरेस्ट कर किया था. एसटीएफ ने आरोपियों से रेलवे भर्ती ग्रुप डी परीक्षा का प्रश्नपत्र बरामद करने का दावा किया था. जांच के बाद पुलिस ने चार्जशीट भी दाखिल की थी. वहीं, दोनों के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट लगाया गया था.

बेदी राम पर इसके बाद 2008 में गोमती नगर में रेलवे पेपर लीक करने के आरोप में केस दर्ज हुआ था. फिर 2014 में आशियाना में उनके खिलाफ पेपर लीक का मामला दर्ज हुआ. इसके अलावा बेदी राम पर 21 अगस्त 2014 को को यूपी एसटीएफ ने गैंगस्टर एक्ट के तहत लखनऊ और जौनपुर में बेदी राम की 8 संपत्तियों को जब्त किया है.

विधायक बेदी राम पर कुल 9 मुकदमे हैं इनमें दर्ज 9 मुकदमों में 8 पेपर लीक से जुड़े हैं. उन्होंने फरवरी 2022 में विधानसभा चुनाव लड़ने के दौरान जो शपथ पत्र पेश किया था. उससे सामने आया था कि विधायक पर राजस्थान, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश में रेलवे और पुलिस भर्ती पेपर लीक से जुड़े 8 केस दर्ज रहे हैं. 


Also Read-

जनता क्यों कह रही PM मोदी को ‘बैल बुद्धि’, क्यों ट्विटर पर करने लगा ट्रेंड

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *