July 13, 2024
कांग्रेस नेता पवन खेड़ा (Pawan Khera)

कांग्रेस नेता पवन खेड़ा (Pawan Khera)

Share this news :

Congress on NEET Paper Leak: नीट 2024 के रिजल्ट का मामला सुप्रीम कोर्ट में चल रहा है. इधर पेपर लीक को लेकर उम्मीदवार देशभर में प्रदर्शन कर रहे हैं. अब इस मामले को लेकर कांग्रेस ने केंद्र सरकार को घेरना शुरु कर दिया है. कांग्रेस नेता पवन खेड़ा ने शुक्रवार (14 जून) को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि यह दुर्भाग्य है कि आज रेल मंत्री हो, शिक्षा मंत्री हो, गृह मंत्री हो या प्रधानमंत्री, कोई जवाबदेही नहीं लेना चाहता है. UPA के शासन काल में सिर्फ आरोप लगने पर इस्तीफा दे दिया जाता था. आज मंत्री मुस्कुराते हुए आरोप देश के नागरिकों पर लगाता है कि ये ‘मोटिवेटेड प्रोटेस्ट’ हो रहा है.

’24 लाख बच्चों का भविष्य खतरे में’

पवन खेड़ा ने कहा कि नाम है NEET, लेकिन रिजल्ट देख कर ये प्रक्रिया कहीं से भी ‘साफ, स्वच्छ या स्वस्थ’ नहीं लगती. इस परीक्षा के माध्यम से देश के 24 लाख बच्चों के भविष्य पर पानी फेर दिया गया है. पिछले 8 साल में 7 ऐसे छात्र थे, जो पूरे अंक लाए लेकिन इस साल 67 छात्र पूरे अंक लेकर आए. इस पर शिक्षा मंत्री का कोई जवाब नहीं है. जब बिहार में पुलिस ने पेपर लीक के मामले में कुछ लोगों को पकड़ा और गुजरात के गोधरा में भी ऐसा मामला निकला, तब ये घोटाला सामने आया.

सामने रखी ये 4 मांगे

कांग्रेस नेता ने छात्रों की तरफ से केंद्र के सामने 4 मांगे रखी हैं. उन्होंने कहा- हमारी मांग है कि 580 से ज्यादा अंक पाने वाले छात्रों के परीक्षा केंद्रों के नाम जारी किए जाएं. 12वीं के बोर्ड के मार्क्स का मिलान NEET के टॉपर्स के साथ किया जाए. जिन एग्जाम सेंटर पर औसत से ज्यादा हाई मार्क्स वाले परीक्षार्थी हैं, उनकी वीडियो रिकॉर्डिंग भी जारी की जाए. इसके साथ ही उन तमाम बच्चों की सूची जारी की जाए, जिन्होनें विंडो का लाभ उठाते हुए अपने एग्जाम सेंटर्स बदले.


Also Read-

हो गई है NDA की सरकार गिराने की तैयारी, पाला बदलेंगे कई सासंद, TMC के दावे ने बढ़ाई टेंशन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *